पाकिस्तानी तस्कर ढेर-23 किलो हेरोइन और हथियार बरामद
पाकिस्तानी

पाकिस्तानी तस्कर ढेर-23 किलो हेरोइन और हथियार बरामद

-भारत-पाक सरहद पर पंजाब पुलिस और बी.एस.एफ. ने की साँझी कार्यवाही 
-बैल्जियम आधारित आतंकवादी और नशा तस्कर जगदीश भूरा इस नशे के कारोबार में मुख्य साजिश-कर्ता
अमृतसर/चण्डीगढ़, 7 अप्रैल(केएनएन)- अमृतसर पुलिस (ग्रामीण) ने मंगलवार और बुधवार की मध्यरात्रि को सीमा सुरक्षा बल (बी.एस.एफ) के साथ साझा कार्यवाही के अंतर्गत नशों के कारोबार में शामिल एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया और मुठभेड़ के दौरान एक पाकिस्तानी नशा तस्कर को मार गिराया। यह आपरेशन पंजाब पुलिस की तरफ से दी जानकारी के आधार पर लोपोके पुलिस थाना के अधिकार क्षेत्र में पड़ती सरहद चैकी (बी.ओ.पी.) ककड फारवर्ड क्षेत्र में चलाया गया।
यह साझा कार्यवाही उस जगह पर की गई जहाँ सरहद पार से तस्करी और घुसपैठ की कोशिश की जाती थी जिस दौरान 22 पैक्ट हेरोइन ( तकरीबन 22.660 किलो), एक साईगा – एम.के राइफल (2 मैगजीन और 7.50 मिलिमीटर के 24 जिंदा कारतूस), एक ए.के – 47 राइफल (2मैगजीनों समेत 7.62 एमएम के 21 जिंदा कारतूस), पाकिस्तानी करैंसी, एक नोकिया फोन और 2 पाकिस्तानी सिम (टैलीनोर और जैज) और 4 इंच मोटाई और 15 फुट लंबाई वाली नीले रंग की एक पाईप (पाकिस्तान में बना) बरामद किया।
पुलिस ने खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स (के.जेड.ऐफ) के बेल्जियम आधारित आतंकवादी जगदीश भूरा और उसके भारतीय साथी जसपाल सिंह, जो फिरोजपुर के गाँव गट्टी राजोके का निवासी है, के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जसपाल सिंह, जोकि जगदीश भूरा के साथ नजदीकी संपर्क में था और वह अमृतसर क्षेत्र में भारत -पाकिस्तान सरहद पार नशों और हथियारों की खेप की तस्करी में शामिल बताया जाता है।
इस सम्बन्ध में एन.डी.पी.एस. एक्ट की धारा 21, 23, 27-ए, 29, 61, 85, आर्मज एक्ट की धारा 25, 27, 54, 59, फारनर एक्ट की धारा 14 और भारतीय पासपोर्ट एक्ट की धारा 3, 34, 20 के अंतर्गत लोपोके थाना में मामला दर्ज किया गया है।
अमृतसर के एस.एस.पी. (ग्रामीण) धरूव दहिआ ने बताया कि जसपाल सिंह के पाकिस्तान आई.एस.आई. के साथ नजदीकी सम्बन्ध थे और पिछले समय से वह सरहद पार से हथियारों और नशीले पदार्थों की तस्करी की कोशिश में शामिल है। उन्होंने बताया कि जसपाल के विरुद्ध एफ.आई.आर. नं. 64 तारीख 14.7.2020 धारा 21, 23, 29, 61, 85 एन.डी.पी.एस. एक्ट के अधीन थाना अमीर खास, फाजिल्का में भी मामला दर्ज किया गया है।
डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता ने कहा कि सरहदी कोरियरों और जगदीश भूरा के सहयोगी जोकि भारत और पाकिस्तान सरहदों पर सक्रिय हैं और भारतीय सहयोगियों के साथ विदेशों में कार्यशील थे, के पूरे नैटवर्क का पता लगाने के लिए कार्यवाही की जा रही है। डीजीपी ने बताया कि जसपाल सिंह की गिरफ्तारी से बरामद हुई नशों और हथियारों की खेप से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी संबंधी और अहम खुलासे होने की संभावना है।